AK 203 Rifle in India-AK 203 Rifle क्या है?

AK 203 Rifle: आपको पता होगा कि AK-47 Rifle कितनी दमदार है। पिछले 70 सालों से AK-47 Rifle दुनिया का जाना माना हथियार है। A सीरीज की राइफलों को चलाना बहुत आसान होता है। इसे तैयार और फायर करने में बहुत कम समय लगता है। इन रायफलों का मजबूत निशाना और लगे तार फायर करने की काबिलियत के कारण यह हर सैनिक का भरोसेमंद हथियार है। इन रायफलों का निर्माण 1947 में शुरू हुआ था। इसका नाम Mikhail Kalashnikov के नाम पर रखा गया था। जिन्होंने इस राइफल का डिजाइन किया था।

you can follow on telegram channel for daily update: yourfriend official

Read also: 2020 PM नरेंद्र मोदी की स्वतंत्रता दिवस की 10 महत्वपूर्ण बातें

Kalashnikov के तकनीकी विशेषज्ञ मिखाईल ने AK 203 Rifle के बारे में बताया है कि इस राइफल को आधुनिक और नए जमाने के मुताबिक बनाया गया है। हम लोग लगातार अपनी स्पेशल फोर्सेज और सैनिकों के साथ मिलकर इसे ओर बेहतर बनाने की कोशिश करते रहते हैं। AK 203 Rifle पर पहले की AK-47 राइफलो की तरह भरोसा किया जा सकता है। यह बहुत जरूरी है कि एक सैनिक अपने हथियारों पर पूरा भरोसा करता हो।

Important: भारत और रूस मिलकर उत्तर प्रदेश के अमेठी में A Series की सबसे एडवांस Rifle बनाएंगे।

अब हम आपको बता दे‌ की पुरानी AK-47 से ज्यादा advance AK 203 Rifle है। साथ ही यह अब भारतीय सेना का मुख्य हथियार बनेगा और इस राइफल को बनाते समय भारतीय सेना कि हर जरूरतों को ध्यान में रखा जाएगा। अब भारत और रूस मिलकर उत्तर प्रदेश के अमेठी में A Series की सबसे एडवांस Rifle बनाएंगे। Making India के तहत भारत में लगभग 7.50 Rifle बनाए जाएंगे। Rassia की स्पेशल फोर्स अपने मिशन को पूरा करने के लिए AK-203 Rifle पर ही भरोसा करते हैं और अब भारतीय सेना भी आतंकवादियों के लिए इसी राइफल का प्रयोग करेंगे। वो चाहे पाकिस्तान के LOC का इलाका हो या चीन से निपटने के लिए LAC का इलाका हो।

AK 203 Rifle की विशेषता

  • यह AK-47 राइफल का एडवांस वर्जन है।
  • इस राइफल का पूरा नाम automatic Kalashnikov- 203 rifle है।
  • इन रायफलों का निर्माण 1947 में शुरू हुआ था।
  • AK-203 में 30 के बदले 60 गोलियों वाली मैगजीन लगाई जा सकती है।
  • जिससे यह पहले से ज्यादा देर तक दुश्मनों का मुकाबला करेगी।
  • इस Rifle को हर मौसम में Use किया जा सकता है।
  • यह राइफल माइनस -35 की ठंड, थार रेगिस्तान की धूल भरी हवा और नार्थ ईस्ट की 9 नॉनस्टॉप वाली बारिश में भी बिना रुके काम करेगी।
  • इस राइफल की जबरदस्त रफ्तार होगी।
  • AK-203 में 60 सेकंड में 600 गोलियां चलाने की शक्ति होगी यानी 1 सेकंड में 10 गोलियां चलेंगी।
  • A series की राइफले अपने अटूट निशाने की वजह से जानी जाती हैं।
  • इस AK-203 राइफल में निशाने लगाने की शक्ति को 30% बढ़ा दिया गया है।
  • रूस के साथ हुई Deal के बाद देश में लगभग 7.50 लाख Refle ले बनाई जाएंगी।

Your Friend

Yourfriend इस हिंदी website के founder है। जो एक प्रोफेशनल Blogger है। इस site का main purpose यही है कि आप को best इनफार्मेशन प्रोविडे की जाए। जिससे आप की knowledge इनक्रीस हो।

2 thoughts on “AK 203 Rifle in India-AK 203 Rifle क्या है?

Leave a Reply

Your email address will not be published.